Search Angika Kahavat Kosh

Thursday, 16 October 2014

औकतैलऽ कुम्हार लकड़ी स॑ खान॑ माटी | अंगिका कहावत

  औकतैलऽ कुम्हार लकड़ी स॑ खान॑ माटी


अर्थ - जल्दी में कोई उटपटाँग काम करना  ।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

Search Angika Kahavat

Carousel Display

अंगिकाकहावत

वेब प अंगिका कहावत के वृहत संग्रह

A Collection of Angika Language Proverbs on the web




संपर्क सूत्र

Name

Email *

Message *